"मचान" ख्वाबो और खयालों का ठौर ठिकाना..................© सर्वाधिकार सुरक्षित 2010-2013....कुमार संतोष

गुरुवार, 29 दिसंबर 2011

एक ख़्वाब जो पलकों पर ठहर जाता है


एक    ख़्वाब    जो    पलकों    पर    ठहर  जाता   है
तेरी   याद   बन  के    आंसू   सा   बिखर   जाता   है 

 एक   लम्हे    में    हज़ारों    पल   गुजर    जाते   हैं 
एक    पल    में    कई    लम्हा   संवर    जाता    है

वो    भी   हंसता    है   साथ   जब    हंसता   हूँ   मैं
जब    रोता    हूँ   तो   वो   जाने   किधर   जाता   है

जुदा    होता   हूँ   तो   ख्यालों   में   चला   जाता  हूँ
वो   जुदा    हो    के    अपने   घर   चला   जाता   है

बात   करता   है   मज़ाक   में   बिछड़   जाने    की
दिल    हर   बार  इस   मज़ाक   से   डर   जाता   है

हज़ारों     कोशिशें    कर    ली   मनाने    की   उसे
लोग    कहते   हैं  कि   जाने   दे   अगर   जाता   है

है  अगर   प्यार   तेरा   सच्चा  तो   लौट  आऐगा
फरेब    एक    उमर    बाद   तो    मर    जाता    है

दर्द-ऐ-दिल  दिल  में ही  रहने दो "कुमार" तुम इसको
ये   उभर   जाऐ   तो    इसका   भी   असर   जाता  है

48 टिप्‍पणियां:

  1. जब भी सोचते हो जालिम, आइडिया ,बहुत जबर आता है ,
    इसलिए तो जब चलता काफ़िला अपना , अक्सर इधर आता है


    बहुत बहुत शुभकामनाएं आपको जी

    उत्तर देंहटाएं
  2. वो भी हंसता है साथ जब हंसता हूँ मैं
    जब रोता हूँ तो वो जाने किधर जाता है
    Kya baat hai!
    Naye saal kee dheron shubh kamnayen!

    उत्तर देंहटाएं
  3. है अगर प्यार तेरा सच्चा तो लौट आऐगा
    फरेब एक उमर बाद तो मर जाता है.bilkui sachi bat khi aapne kavita ke madhayam se.thanks.

    उत्तर देंहटाएं
  4. एक लम्हे में हज़ारों पल गुजर जाते हैं
    एक पल में कई लम्हा संवर जाता है
    सुन्दर रचना
    vikram7: आ,मृग-जल से प्यास बुझा लें.....

    उत्तर देंहटाएं
  5. बात करता है मज़ाक में बिछड़ जाने की
    दिल हर बार इस मज़ाक से डर जाता है
    यह हुई ना बात गजब, क्या बात है जबरदस्त

    उत्तर देंहटाएं
  6. बात करता है मज़ाक में बिछड़ जाने की
    दिल हर बार इस मज़ाक से डर जाता है
    ... नींद नहीं आती डर से , बिलकुल सही एहसास

    उत्तर देंहटाएं
  7. हज़ारों कोशिशें कर ली मानाने की उसे
    लोग कहते हैं कि जाने दे अगर जाता है


    है अगर प्यार तेरा सच्चा तो लौट आऐगा
    फरेब एक उमर बाद तो मर जाता है

    sahi kaha.....

    उत्तर देंहटाएं
  8. है अगर प्यार तेरा सच्चा तो लौट आऐगा
    फरेब एक उमर बाद तो मर जाता है

    बहुत बढ़िया....
    शुभकामनाएँ.

    उत्तर देंहटाएं
  9. क्या बात है. उम्दा गज़ल. हर शेर पर दाद है.

    उत्तर देंहटाएं
  10. एक लम्हे में हज़ारों पल गुजर जाते हैं
    एक पल में कई लम्हा संवर जाता है
    बहुत खूब कहा है आपने ।

    उत्तर देंहटाएं
  11. बढ़िया हैं सारे शेर सिर्फ चौथे को छोड़कर |

    उत्तर देंहटाएं
  12. जो अपना नहीं उसे मना लेने के लिए
    ये दरिया दिली अच्छी नहीं ....

    उत्तर देंहटाएं
  13. वाह!!!!!!!बहुत सुंदर रचना,.....बेहतरीन पोस्ट,....
    नए साल की बहुत२ शुभकामनाये बधाई,...

    नई पोस्ट --"काव्यान्जलि"--"नये साल की खुशी मनाएं"--click करे...

    उत्तर देंहटाएं
  14. दर्द-ऐ-दिल दिल में ही रहने दो "कुमार" तुम इसको
    ये उभर जाऐ तो इसका भी असर जाता है
    ...सच जब दिल में दर्द तो तो उसका असर लाज़मी है..
    सुन्दर प्रस्तुति..

    उत्तर देंहटाएं
  15. बेहतरीन ग़ज़ल....आपको भी नववर्ष की शुभकामनायें

    उत्तर देंहटाएं
  16. post to pahle hi padh li thi aur comments bhi diya tha na jane kahan gayab ho gaya.

    hamesha ki tarah lajawaab gazal hai.

    nav varsh ki shubhkaamnayen.

    उत्तर देंहटाएं
  17. हर शेर में जान डाल दिया है आपने !
    बहुत सुन्दर !
    नव वर्ष की बधाई !

    उत्तर देंहटाएं
  18. बहुत सुन्दर वाह! गुरुपर्व और नववर्ष की मंगल कामना

    उत्तर देंहटाएं
  19. सुन्दर रचना. हर पल ज्योतिर्मय हो..

    उत्तर देंहटाएं
  20. बात करता है मजाक में बिछड़ जाने की,
    दिल हर बार इस मजाक से डर जाता है।
    इसे प्रेम की पराकाष्ठा कहते हैं दोस्त,
    अब यह केवल साहित्य में ही पाया जाता है।
    नये वर्ष के लिये शुभकामनायें एवं सुन्दर रचना के
    लिये बधाई के साथ धन्यवाद।

    उत्तर देंहटाएं
  21. नये वर्ष की शुभकामनाओं के साथ......
    ख्वाब को कविता में क्या पिरोया है,
    कविता कहीं आँसुओं से तो नहीं भिगोया है।

    उत्तर देंहटाएं
  22. बहुत सुन्दर रचना.
    नए साल की हार्दिक बधाई आपको

    उत्तर देंहटाएं
  23. umda gazal..
    नव वर्ष मंगलमय हो ..
    बहुत बहुत हार्दिक शुभकामनायें

    उत्तर देंहटाएं
  24. आपको एवं आपके परिवार के सभी सदस्य को नये साल की ढेर सारी शुभकामनायें !
    खूबसूरत गजल !

    उत्तर देंहटाएं
  25. very nice creation, loving it !...नववर्ष आपके लिए मंगलमय ho...

    उत्तर देंहटाएं
  26. बहुत बढि़या ग़ज़ल।
    नव वर्ष की शुभकामनाएं।

    उत्तर देंहटाएं
  27. ऐसी उम्मीदों के सहारे और लोगों के लिए जीने से क्या फ़ायदा जो हमारे अहसास के मतलब ही न समझें इसलिए कभी न कभी इन्हें कह ही देना चाहिए ==
    फरेब एक उमर बाद तो मर जाता है

    उत्तर देंहटाएं
  28. वो भी हंसता है साथ जब हंसता हूँ मैं
    जब रोता हूँ तो वो जाने किधर जाता है ...

    वाह कमाल का शेर है ... प्रेम में डूबा हुवा ...
    आपको नया साल बहुत बहुत मुबारक हो ...

    उत्तर देंहटाएं
  29. हज़ारों कोशिशें कर ली मनाने की उसे
    लोग कहते हैं कि जाने दे अगर जाता है

    vah santosh ji .........kya khoob likha hai badhai.

    उत्तर देंहटाएं
  30. बहुत खुबशुरत प्यारी गजल,...

    WELCOME to new post--जिन्दगीं--

    उत्तर देंहटाएं
  31. "एक लम्हे में हज़ारों पल गुजर जाते हैं
    एक पल में कई लम्हा संवर जाता है"

    हुत खूब...!

    उत्तर देंहटाएं
  32. "एक लम्हे में हज़ारों पल गुजर जाते हैं
    एक पल में कई लम्हा संवर जाता है"

    बहुत खूब...!

    उत्तर देंहटाएं
  33. एक लम्हे में हज़ारों पल गुजर जाते हैं
    एक पल में कई लम्हा संवर जाता है


    वो भी हंसता है साथ जब हंसता हूँ मैं
    जब रोता हूँ तो वो जाने किधर जाता है

    जिंदगी में भी ऐसा ही होता है.....
    जिसे चाहो वो दूर जाता है
    और अनचाहा खुद से पास आ जाता है !!

    उत्तर देंहटाएं
  34. वो भी हंसता है साथ जब हंसता हूँ मैं
    जब रोता हूँ तो वो जाने किधर जाता है

    अद्भुत भावों का संयोजन किया है अपने इस रचना में .....! आपका आभार ....!

    उत्तर देंहटाएं
  35. हज़ारों कोशिशें कर ली मनाने की उसे
    लोग कहते हैं कि जाने दे अगर जाता है

    है अगर प्यार तेरा सच्चा तो लौट आऐगा
    फरेब एक उमर बाद तो मर जाता है

    बहुत उम्दा ग़ज़ल.
    ये दो शेर तो गज़ब के हैं.

    उत्तर देंहटाएं
  36. गजब की गजल है भाई, बधाई स्वीकार करें।

    उत्तर देंहटाएं
  37. आपकी भावपूर्ण प्रस्तुति पढकर बहुत अच्छा लगा.
    गजब की अभिव्यक्ति है आपकी.

    मेरे ब्लॉग पर आप आये बहुत अच्छा लगा.
    फिर से आईयेगा.

    आपका ६० वाँ फालोअर बनते हुए मुझे खुशी हो रही है.

    उत्तर देंहटाएं
  38. लोग कहते हैं जाने दे अगर जाता है.... सलाह तो अच्छी है पर सुनता कौन है ?
    बढ़िया रचना... बढ़ाई !

    उत्तर देंहटाएं
  39. सुन्दर भाव और अभिव्यक्ति के साथ उम्दा प्रस्तुती! बधाई !

    उत्तर देंहटाएं
  40. बेहद उत्कृष्ट प्रस्तुति.सुन्दर

    उत्तर देंहटाएं
  41. "ख्वाब तो वो है जिसका हकीकत मे भी दीदार हो…
    कोई मिले तो इस कदर मिले,
    जिसे मुझ से ही नही,
    मेरी रूह से भी प्यार हो..." ख़्वाब अक्सर जो आते हैं और रुला कर चले जाते हैं....संतोष जी आपकी इस रचना के लिए सहृदय बधाई...आपकी रचनाओं में एक अजीब सी हकीकत है.....ऐसी ही एक रचना जो कि ख्वाब से सम्बंधित है मत मिलो ख्व़ाब बनकर हमें ज़िन्दगी भी आप शब्दनगरी ब्लॉगिंग व सोशल नेटवर्किंग साईट के माध्यम से पढ़ सकतें हैं....

    उत्तर देंहटाएं

आपकी प्रतिक्रिया बहुमूल्य है !

Related Posts with Thumbnails